सॉल्वर गैंग का सरगना निकला कस्टम अधीक्षक,  STF ने किया गिरफ्तार

मेरठ: दिल्ली एयर पोर्ट पर तैनात एक कस्टम अधीक्षक  पेपर लीक और सॉल्वर गैंग का सरगना निकला। सिविल कोर्ट स्टाफ केंद्रीकृत भर्ती (ग्रुप डी) की परीक्षा में नकल करने के मामले में एसटीएफ ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उसका नेटवर्क उप्र और हरियाणा में फैला है।

एसटीएफ सीओ ब्रिजेश कुमार ने बताया कि  रविवार को 18 सेंटरों पर सिविल कोर्ट स्टाफ भर्ती परीक्षा थी। ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र अंतर्गत एस्ट्रॉन कॉलेज में दूसरी शिफ्ट के पेपर में कॉलेज प्रशासन ने विभोर पुत्र वीरपाल ग्राम बसाना मुजफ्फरनगर को नकल करने के आरोप में पकड़ा था।

सीओ एसटीएफ मेरठ बृजेश सिंह और इंस्पेक्टर ब्रह्मपुरी बृजेश शर्मा ने आरोपी से पूछताछ की तो पता चला कि परीक्षा शुरू होने से आधा घंटे पहले उसके मोबाइल पर वाट्सएप के जरिए आंसर-की भेजी गई थी।

नंबर को ट्रेस किया गया तो वह कस्टम अधीक्षक विजय तोमर उर्फ नीटू का निकला। वह मूल रूप से बागपत जिले के बड़ौत कोतवाली क्षेत्रांतर्गत वाजिदपुर गांव का रहने वाला है। मंगलवार को आरोपित मेरठ से गिरफ्तार कर लिया गया। उसके पास से कुछ दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.