रियलहीरो: टूटा था रेल ट्रैक, मजदूर ने साहस से रोकी ट्रेन, बचाई सैकड़ों की जान, सरकार करेगी सम्मानित

त्रिपुरा: अपने साहस और चतुराई से सैकड़ों लोगों की जान बचाने वाले दिहाड़ी मजदूर स्वप्न देब बर्मा और उनकी बेटी सोमती को राज्य सरकार अपनी ओर से सम्मानित करने जा रही है.

मिली जानकारी के अनुसार स्वपन देब बर्मा और उनकी बेटी सोमती ने बीती 15 जून को त्रिपुरा के अंबासा इलाके में रेलवे ट्रैक को टूटा हुआ देख उसपर आ रही ट्रेन को तौलिया दिखाकर रोकने की कोशिश की, लेकिन इसके बावजूद ट्रेन नहीं रुकी.

इसके बाद स्वप्न ट्रैक पर दौड़ने लगा और ट्रेन के लोको पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन रोक दी. जिसके बाद पता चला कि ट्रैक टूटा हुआ था और इससे कई लोगों की जान जा सकती थी.

इस तरह स्वपन देब बर्मा ने अपने साहस और चतुराई से इतने बड़े हादसे को टाला. वहां मौजूद सभी लोगों ने स्वप्न के इस काम की तारीफ की.

कुछ दिन पहले क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी स्वप्न को रियल हीरो बताते हुए एक ट्वीट में लिखा कि ऐसे रियल हीरोज को सरकार को सम्मानित करना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.