कुशीनगर: दो मासूम बेटों व पत्नी की हत्या कर फार्मासिस्ट ने की खुदकुशी

कुशीनगर: पडरौना में पत्नी व दो बच्चों की हत्या के बाद एक फार्मासिस्ट ने जान दे दी। पत्नी व बच्चों पर चाकू से हमला करने के बाद फार्मासिस्ट ने जहर खा लिया। जबकि उसकी 11 वर्ष की बड़ी बेटी ने छत पर छिपकर किसी तरह अपनी जान बचाई। इस हादसे के बाद शहर में सनसनी फैल गई है।

पडरौना नगर के बावली चौक के निवासी माधव मुरारी सिंह का रात में पत्नी से विवाद हुआ था। इसके बाद देर रात करीब दो बजे माधव मुरारी ने गहरी नींद में सो रही पत्नी सुमन सिंह (42 वर्ष), पुत्री माधवी (11) पुत्र विक्रम सिंह (8) व मन्नू सिंह (4) पर चाकू से ताबड़तोड़ प्रहार किया। सभी लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

इस दौरान माधवी किसी तरह छत पर चढ़कर बगल के छत पर कूदकर अपनी जान बचाई। इसके बाद माधव मुरारी ने जहर खा लिया। पत्नी तथा दो पुत्रों के साथ माधव मुरारी की मौत हो गई जबकि बेटी बेहद गंभीर है। सुबह कुछ लोगों ने माधवी सिंह को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।

बताया जा रहा है कि पति पत्नी के बीच वर्ष 2013 से विवाद चल रहा था। कोर्ट में वाद भी लंबित है। पत्नी सुमन बच्चों के साथ पति के मकान में अलग रह रही थीं। रोज की तरह वह बच्चों के साथ अपने कमरे में सो रही थी। सुबह होश में आने पर माधवी ने मां व दोनों भाई का शव देख शोर मचाया।

जिससे आस पास के लोगों को घटना की जानकारी हुई। सूचना आम होते ही सदर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई। कोतवाल विजय राज सिंह ने आला अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। एसपी अशोक कुमार पाण्डेय ने घटना स्थल पर पहुंच जांच-पड़ताल के बाद जरूरी निर्देश दिया। फोरेंसिक टीम मौके पर गहनता से जांच-पड़ताल कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.